जयविलास पैलेस नाइट में ऐसा दिखाई है, दरबार हॉल है आकर्षण का केन्द्र जिसमें लगा 450 किलो सोना

jj3_1491656617.jpg

ग्वालियर. व्हाइट जयविलास पैलेस रंग बिरंगी लाईटों से जगमग हुआ तो लोग देखते ही  रह गये, सिंधिया राजवंश के इस जयविलास पैलेस में जब रात को दरबार हॉल में लोग पहुंचे तो उ समें दुनिया के सबसे बड़े 3500  किलो वनज वाले दो झूमरों की रोशनी देखकर हतप्रभ रह गये, यहीं नहीं इसी हॉल में लगा 450 किलो गोल्ड भी रोशनी में अलग ही दिखाई दे रहा था। 

सेकेण्ड और फॉर्थ सेटेरेडे की नाइट में खुला जयविलास पैलेस नाइट

नाइट कल्चर कोबढ़ावा देने समर वैकेशन के बीच जयविलास पैलेस अब रात को भी खुलेगा, शनिवार कीशाम को जैसे ही अंधेरा छाया, वैसे ही जयविलास पैलेस सतरंगी रोशनी में जगमगा उठा, जयविलास पैलेस में 400    कमरों में म्यूजियम बनाया गया है जिसमें सिंधिया राजवंश से जुडी वस्तुयें प्रदर्शित की गयी है। इस पैलेस का सबसे प्रमुख आकर्षण है दरबार हॉल में बेल्जियम ग्लास के दुनिया के सबसे बड़े दो झूमर लगेे है। 

डायनिंग हॉल में देखी चांदी की ट्रेन, प्रिंस एडवर्ड के स्वागत में बनवाया गया

जयविलास पैलेस में अनोखी चांदी की ट्रेन हैए जो डायनिंग टेबल पर चलती है। इस ट्रेन की बोगियो में ड्राइफ्रूट और वाइन रहती है। यही ट्रेन अब रात को म्यूजियम में देखने को मिल रही है।

सिंधिया राजवंश के शासक जयाजीराव 8 साल की उम्र में ग्वालियर के महाराज बने थे। बड़े होने पर जब इंग्लैंड के शासक एडवर्ड.टप्प् का भारत आना हुआ तो महाराज ने उन्हें ग्वालियर बुलाया था। उनके स्वागत के लिए ही उन्होंने जयविलास पैलेस को बनाने प्लानिंग की। इसके लिए फ्रांसीसी आर्किटेक्ट मिशेल फिलोस को विशेष तौर पर बुलाया गया।

www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें फेसबुक और
ट्विटर पर फॉलो करें

Advertisements

One thought on “जयविलास पैलेस नाइट में ऐसा दिखाई है, दरबार हॉल है आकर्षण का केन्द्र जिसमें लगा 450 किलो सोना

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s