आईआईटी टॉपर‘- पिताजी के स्ट्रगल की दस्तां सुनकर मोटिवेट हुआ और आया डिप्रेशन से बाहर

iit-air-73-3_1497180834.jpg

ग्वालियर. ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (जीईई)    एडवांस 2017 का परिणाम रविवार की शाम को जारी हो गया है, 21 मई, रविवार को आयोजित इस एग्जाम में ग्वालियर से रविराज सिंह एआईआर-73 रेंक हासिल करने में कामयाब रहें हैं, रविराज की कामयाबी की सूचना मिलते ही पूरी फैमिली रविराज को सिनेमा दिखाने के लिये ले गयी । 

यह है पूरी खबर 

रविराज के बाद शहर में दूसरे स्थान पर कमल जैन एआईआर-312,   तीसरे पर श्रेया जैन एआईआर-397  चौथे पर कुणाल एआईआर-312 और पांचवे स्थान पर अनिकेत एआईआर-403  रहे।  रविराज सिंह को मैथेमेटिक्स में 122 में से पूरे 122 मार्क्स,  जबकि फिजिक्स में 122 में से 106 अंक मिले।

रविराज का बड़ा भाई पवन क्रिकेटर है,  रविराज ने बताया,  पहले वह भी क्रिकेट खेलने भाई के साथ जाने लगा था,  लेकिन फिजीकल एक्जर्शन से माइग्रेन होने लगा तो मैने सारा ध्यान किताबों में लगाया। मन लगने लगा तो तय कर लिया कि एकेडेमिक एक्सीलेंस हासिल करना ही मेरा टार्गेट होगा।   जेईई मैन्स में एआईआर-500  से ऊपर आई उस वक्त निराशा हुई तो पेरेंट्स ने हौसला बढ़ाया तो तैयारी में फिर जुट गया।   इससे पहले भी तैयारी के दौरान कई बार यूनिट टेस्ट में कम स्कोर होने पर डिप्रेशन होता था तो पिताजी के स्ट्रगल की कहनी याद कर फिर नए हौसले से जुट जाता था। आखिरकार कामयाबी मिली।   गौरतलब है कि रविराज के पिता शिवराज सिंह वर्मा ग्वालियर के एडीएम  हैं,  उन्होंने एमपीपीएससी  की तैयारी रद्दी में से कॉम्पीटिटिव बुक्स खरीद कर की थी,  और कामयाब रहे थे

मार्निंग एवं ईवनिंग वॉक से डिप्रेशन  से बाहर आया

रविराज ने बताया कि 12 वीं के साथ ही जेईई की तैयार की थी, इस बीच उसने स्वयं को सोशल मीडिया ओर स्मार्ट फोन व इंटरनेट के एडिक्शन से दूर रखा। री-क्रिएशन और के लिये वह पिता के साथ मॉर्निग व ईवनिंग वॉक पर जाता था और दिन भर के डिप्रेशन दूर करने के लिये डिनर पिताजी के साथ डिस्कशन करता था। 

एडमिशन  आईआईटी दिल्ली में सीएस ब्रांच में रविराज लेगा

जबसे मैंने क्रिकेट छोड़ पढ़ाई को अपनाया ठान लिया था कि आईएएस बनना है,  लेकिन पहले आईआईटी को टार्गेट बनाया। अब आईआईटी .दिल्ली से सीएस ब्रांच में एडमिशन लेना चाहता हूं।

www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें फेसबुक और
ट्विटर पर फॉलो करें

Advertisements

One thought on “आईआईटी टॉपर‘- पिताजी के स्ट्रगल की दस्तां सुनकर मोटिवेट हुआ और आया डिप्रेशन से बाहर

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s