नामी गिरामी होटलों में था मैनेजर, पेटीएम से पेमेंट लेकर करता था लड़की सप्लाई

paytm_1500024588.jpg

भोपाल. राजधानी पुलिस की सायबर सेल ने आखिरकार पिछले दो माह से फरार चल रहे ऑनलाईन सेक्स रैकेट के सरगना को पकड़ ही लिया। आरोपी पर पांच हजार रूपये का इनाम भी घोषित किया गया था। पूछताछ में खुलासा हुआ कि आरोपी लड़कियों का सौदा वेबसाइट से करता था और उसका पेमेंट पेटीएम के माध्यम से यूजर्स से लेता था। 

होटल में मैनेजर 

साइबर सेल के मुताबिक,  दो महीने पहले सामने आए सेक्स रैकेट के मामले में गिरोह का मुख्य सरगना सुभाष उर्फ वीर द्विवेदी फरार था।  उसे पकड़ने में साइबर क्राइम ब्रांच के अलावा मंगलवारा थाने की भी अहम भूमिका रही। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसने अपने साथियों के साथ मिलकर दिल्ली में अश्लील वेबसाइट बनाई थी।  जिसके माध्यम से यूजर्स से संपर्क कर लडकियां उपलब्ध कराते थे और पैसा पेटीएम या बैंक के माध्यम लेते थे। 

नौकरी की तलाश में आया था करने लगा गर्ल्स सप्लाई 

मूलतौर पर रीवा का रहने वाले रैकेट सरगना सुभाष ने वेबसाइट चलाने के लिए सभी सदस्यों को अलग.अलग कामों में लगाया था।  जांच में पता लगा कि आरोपी सुभाष 5 साल पहले नौकरी की तलाश में भोपाल आया। उसने भोपाल की कई बड़ी होटलों में काम किया। साथ ही कई होटलों में मैनेजर भी रहा। होटल मैनेजर रहते हुए वह कपल्स को कमरे भी दिलाने लगा।  फिर कुछ समय कॉल गर्ल्स सप्लाई करने की लाइन में आ गया। लड़कियों की आईडी रख लेता था 

साइबर क्राइम टीम ने बताया कि आरोपी जॉब का लालच देकर मेघालय और महाराष्ट्र की कई लड़कियों को सेक्स रैकेट में धकेल देता था।  वह लड़कियों को जॉब दिलाने के बहाने भोपाल बुलाता और उन्हें एक कमरे में रोक लेता था। फिर उनकी आईडी भी अपने पास रखता था।   ये लोग जॉब से जुड़ीं विभिन्न साइटों पर अपना बायोडेटा अपलोड करने वालीं लड़कियों से संपर्क करते थे।  उस वक्त पुलिस ने छापा मारकर 4 लड़कियों को भी बचाया था।

भाजपा नेता भी था सैक्स रैकेट में शामिल 

ऑनलाइन सेक्स रैकेट का लगभग दो महीने पहले खुलासा हुआ था। मामले में पुलिस ने नौ आरोपियों को पकड़ा था,  जिसमें भाजपा अनुसूचित मोर्चा का तत्कालीन मीडिया प्रभारी नीरज शाक्य भी शामिल था। मामले के सामने आने पर पार्टी ने उसे निष्कासित कर दिया था। पकड़े गए आरोपियों में सुभाष उर्फ वीर द्विवेदी के अलावा दिनेश उर्फ डेविड,  सुरेश गहलोत उर्फ शैलेंद्र,  रवि प्रजापति,  हरजीत धनवानी,  मनोज गुप्ता,  कृष्णकुमार जायसवाल,  सुरेश बेलानी,  मिसवा उद्दीन और नीरज शाक्य शामिल हैं। नीरज भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा का प्रदेश मीडिया प्रभारी है। कार्रवाई के बाद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने उसे पार्टी से निकाल दिया।

www.newsmailtoday.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिये हमें फेसबुक और
ट्विटर पर फॉलो करें

Advertisements

One thought on “नामी गिरामी होटलों में था मैनेजर, पेटीएम से पेमेंट लेकर करता था लड़की सप्लाई

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s